अमीर लड़की को उसके घर में चोद डाला

"If you'd like to submit a paid guest post or sponsor a post on our website, please contact us at

1.2/5 - (4 votes)

हेल्लो दोस्तों मैं आज हॉट सेक्स स्टोरीज के पाठको के लिए अपनी एक कहानी को लेकर आया हूँ

Build Your Dream Website Join Now
अपनी वेबसाइट बनाए Join Now

मैं जो कहानी आज आप लोगो के सामने प्रस्तुत करने जा रहा हूँ ये मेरे जीवन की सच्ची कहानी है |

मैं आज जो कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है तो मैं आप सभी लोगो के उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और इस कहानी को पढने में आप लोगो को बहुत मज़ा भी आयेगा |

मैं कहानी को शुरू करने से पहले आप लोगो को अपने बारे में बता देता हूँ | मेरा नाम प्रदीप है और मेरी उम्र 28 साल है | मैं रहने वाला जयपुर का हूँ | मेरी पढाई पूरी हो चुकी है और मैं अब जॉब करता हूँ |

मेरी हाईट 6 फुट 4 इंच है | दोस्तों मेरी हाईट बहुत सही है जिसकी वजह से में स्मार्ट भी लगता हूँ | मैं स्मार्ट लगने के साथ गोरा भी बहुत हूँ |

मैं काफी दिनों से सेक्सी कहानी पढता आ रहा हूँ और मैंने अभी तक जो कहानी पढ़ी है वो मुझे बहुत पसंद आई है |

मैं जब भी कहानी पढता था तो मेरा भी मन होता की मैं भी आप लोगो की सेवा में अपनी एक कहानी लिखूं और मैं आज लिख रहा हूँ | दोस्तों मैं चुदाई तो बहुत बार कर चूका हूँ

पर मुझे जो मज़ा इस चुदाई में आया था वो किसी और चुदाई में नही | मैंने अभी तक जिस लड़की की चुदाई की है वो मेरी दीवानी हो गयी है क्यूंकि मैं जिसकी भी चुदाई करता हूँ उसको चुदाई का पूरा मज़ा देता हूँ |

दोस्तों इसकी वजह है की मेरा लंड काफी मोटा और लम्बा है जिससे मैं चुदाई का पूरा मज़ा दे पता हूँ | मैं अब आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधे कहानी पर आता हूँ |

Amir ladki ko usake ghar me hi choda hindi sex story

ये कहानी अभी कुछ दिन पहले की है जब मैं जॉब कर रहा था | जब मेरी जॉब लग गयी तो मुझे जाना पड़ा | दोस्तों मेरी जॉब एक बड़े शहर में लगी थी जहाँ एक से एक मस्त लड़की देखने को मिलती थी | मैं जब सुबह नास्ता करने के बाद अपने काम के लिए निकलता तो मुझे रास्ते में बहुत सी लड़की मिलती मैं उन सबको देखता हुआ चला जाता |

दोस्तों वहां तो किसी को किसी से कोई मतलब नही था सब अपने अपने काम में इतना बिजी रहते थे की कोई किसी का ध्यान ही नही रखता था |

मैं जहाँ पर घर किरये से लेकर रहता था वहां से कुछ दुरी पर एक मॉल था और जब मेरी छुट्टी होती थी तो मैं उस मॉल में मस्ती करने चला जाता था | मेरी छुट्टी हर संडे को होती थी और जब मेरी छुट्टी होती तो मैं घर में बोर होने लगता तो मैं मॉल में जाकर इधर उधर देखता रहता |

उस मॉल में आमिर से आमिर घर की लड़कियां शोपिंग करने के लिए आती थी |

मैं उन लोगो को देख कर मज़े लिया करता था | एक दिन की बात है जब मैं उसी मॉल में बैठा था तो मेरे पास एक लड़की आकार बैठ गयी और वो किसी से बाते कर रही थी | दोस्तों उस लड़की को देखते ही मेरे होश उड़ गए और मैंने सोचा की ऐसी लड़की की चुदाई करने को मिल जाये तो जिंदगी बन जाये |

फिर मैं उसके पास कुछ देर तक बैठा रहा और जब वो बात करने के बाद फ़ोन कट करके रख लिया तो मैंने उससे कहा जी मैं यहाँ पर नया हूँ क्या आप मुझे कोई जगह बता सकती हो जिस जगह मैं घूम सकूँ |

पर वो मेरे सवाल का बिना जवाब दिए ही बैठी रही तो मैंने उससे दुबरा यही सवाल किया | तब वो बोली हाँ यहीं से कुछ दुरी पर है जहाँ आप घूम सकते हो और आपका टाइम भी अच्छे से पास हो जायेगा |

तब मैंने उससे कहा की मैं अपनी कार भी नही लाया हूँ क्यूंकि मेरी कार ख़राब हो गयी थी तो क्या आप मुझे वहां तक छोड़ सकती हो | उसने कहा हाँ छोड़ दूंगी मैं उधर ही जा रही हूँ | फिर उसने फ़ोन किया और बोली की कार लेकर आओ घर चलना है | दोस्तों वो दिखने में बहुत सुन्दर थी और उसको देखने से लग रहा था की वो बहुत आमिर भी है |

मैं उसके साथ कार में बैठ गया और उससे उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम अनुष्का बताया | फिर मैं कुछ देर ऐसे ही बात करने के बाद कहा की आपका कोई बॉयफ्रेंड है तो उसने कहा हाँ है पर वो यहाँ नही रहता है |

मैं अब उससे धीरे धीरे सब पूछ रहा था और मैंने उससे पूछा आप क्या करती हो तो उसने बताया की मैं जॉब करती हूँ | तब मैंने कहा तुम्हे जॉब करने की क्या जरूरत है वो बोली की हाँ इसकी तो कोई जरूरत नही है

पर घर में अकेली रहती हूँ तो बोर होने लगती हूँ इसलिए करती हूँ | तब मैंने उससे पूछा की तुम्हारे मम्मी और पापा घर नही रहते है तो वो बोली की पापा फ़ौरन में रहते हैं और मेरी मम्मी मेरे साथ रहती हैं |

मेरी मम्मी बहुत बिजी रहती हैं जिसकी वजह से वो मुझसे बात नही कर पाती है | फिर मैंने कहा मैं यहाँ और किसी को जनता भी नही हूँ तो क्या आप मुझसे दोस्ती करोगी और उसने हाँ कह दिया |

वो मुझे उस दिन अपने घर ले गयी और मेरे लिए चाय बना कर लाई | फिर हम दोनों एक दुसरे के साथ बैठ कर चाय पीने लगे | मैं चाय पीने के बाद अपने घर चला आया | अब मैं उसके घर अक्सर जाया करता था तो मुझे उसके घर के बारे में पता चल गया था |

उसके कुछ दिन की बात है जब मैं उसके घर गया तो उसने मुझसे बैठने को कहा और मैं बैठ गया | फिर वो बोली की मैं फ्रेस होकर आती हूँ | वो बाथरूम में चली गयी और कुछ देर बाद नहा कर टोबल में बाहर आई |

दोस्तों उसको टोबल में देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं उसको इस तरह देख कर अपने आप पर कंट्रोल नही कर पाया | जब वो कपडे बदलने के लिए अपने रूम में गयी तो मैं भी उसके पीछे से रूम में चला गया और उसको पीछे से पकड लिया | वो मेरे हाथो को हटा कर घूम गयी और मेरे एक थप्पड़ लगा दिया |

पर मुझे उसके उस थप्पड़ का कोई भी असर नही हुआ | मैंने उसे अपने दिल की बात बोल दिया तो उसने मेरे एक और थप्पड़ लगा दिया | जब उसने मेरे फिर से थप्पड़ लगा दिया तो मैंने उसे अपनी बाँहों में भर लिया और चूमने लगा |

मैं उसको चूम रहा था और वो मुझे छोड़ने को कह रही थी | मैं उसको चूमने के साथ उसकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ उसके बड़े चिकने बूब्स को मसल रहा था |

मैं उसको ऐसे ही कुछ देर करता रहा जिससे वो गर्म हो गयी और वो मेरी होठो को चूसने लगी | तब मैं उसकी होठो को चूसने के साथ उसको बेड पर लेटा दिया |

मैं उसे बेड पर लेटा कर उसकी होठो को ऐसे ही कुछ देर तक चूसने के बाद उसके बूब्स को हाथ में पकड कर दबाते हुए उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा |

मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे को हाथ में पकड कर दबा रहा था |

फिर मैंने उसकी टांगो को पकड कर अपनी और खीच लिया और उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर चाटने लगा | वो आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ… सी सी सी… उ उ उ उ उ.. की सिसकियाँ लेती हुई बिस्तर को कस के पकडे हुई थी | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ उसकी चूत में ऊँगली भी घुसा दी

जिससे उसके मुंह से ह ह ह ह…. ऊ  ऊ ऊ ऊ…. अ अ अ अ… उई उई उई उई… सी सी सी सी.. की सेक्सी आवाजे करती हुई अपने बूब्स को मसल रही थी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक ऊँगली को अन्दर बाहर करता रहा |

फिर अपने कपडे निकालने के बाद उसके हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे लंड को पकड कर घुटनों के बल बैठ कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को मुंह में अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी |

मैं अपने लंड को ऐसे ही कुछ देर तक चुसाने के बाद उसकी चूत के चेंद पर लंड को रख कर घुसा दिया | उसके मुंह से दर्द भरी सिसकियाँ निकल गयी |

मैं उसकी पतली कमर को पकड कर जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा | वो आ आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ…. ह ह ह ह ह…. की सेक्सी आवाजे करती हुई चुदने लगी |

मैं उसकी चूत में जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चोद रहा था | मैं जब उसकी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था तो उसने बड़े बड़े बूब्स जोर जोर से हिल रहे थे जिनको देख कर मैं उसकी चूत में धक्को की स्पीड और तेज कर दी |

वो आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ…. ह ह ह ह ह…. सेक्सी आवाजे करती हुई अपनी चूत को सहला रही थी |

मैं उसकी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था जिससे धक्को की आवाज कमरे में गूंजने लगी साथ में उसकी सिसकियाँ की आवाज आ रही थी | मैं उसको ऐसे ही कुछ देर तक चोदने के बाद उसके चूत के ऊपर सारा माल निकाल दिया |

उस दिन मुझे चुदाई में बहुत मज़ा आया था क्यूंकि मैं इतनी सुन्दर लड़की को पहली बार चोदा था | उस चुदाई के बाद मैंने उसको बहुत बार चोदा और अब वो मुझसे अपनी चुदाई कराती है |

धन्यवाद………….

Leave a comment