भाभी ने पूरी रात लिए चुदाई के मज़े

"If you'd like to submit a paid guest post or sponsor a post on our website, please contact us at

4.5/5 - (2 votes)

Hot-Sex-Story.com के पाठको को मेरे खड़े लंड का प्यार भरा नमस्कार |

Build Your Dream Website Join Now
अपनी वेबसाइट बनाए Join Now

मैं आप सभी लोगो से ये उम्मीद करता हूँ की मेरी ये कहानी पढ़ने के बाद आप सभी लोग मुठ जरुर मारोगे और लड़कियां अपनी चूत में

ऊँगली करने पर मजबूर हो जाएगी | मैं अपनी कहानी भाभी ने पूरी रात लिए चुदाई के मज़े  को शुरू करने से पहले अपने बारे में बताना चाहता हूँ |

मैं अपनी सच्ची घटना बताने जा रहा हूँ और मेरा नाम परमिश है | मैं रहने वाला भोपल शहर के कुछ किलीमीटर की दुरी पर एक शहर से हूँ | मेरी उम्र इस टाइम 40 है | मैं दिखने में इस टाइम ज्यादा हट्टा और कट्टा हूँ |

दोस्तों मैं आप लोगो का ज्यादा टाइम ना बर्बाद करते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ और एक बात का आप लोग ध्यान रखना मैं अपनी कहानी में अपने बारे में बता हुआ चलूँगा |

ये कहानी तब की है जब मैं 12 वीं में था | उस टाइम मेरे बड़े पापा यानि मेरे पापा के बड़े भाई के लड़के की नई नई शादी हुई थी | मेरे बड़े पापा और मेरा घर पास पास में ही है बस उनके और मेरे घर का खाना ही अलग अलग बनता है | वो तब से बनता आ रहा है जब मैं बहुत छोटा था |

पर सब लोग एक दुसरे के घर आते जाते रहते हैं | दोस्तों उस टाइम में बहुत स्मार्ट लगता था और काफी मस्त बॉडी गबरू जवान था | मेरा लंड भी काफी बड़ा और मोटा है | आप लोग समझ लो ठीक केले का आकार का मेरा लंड जिसको सारी औरते और लड़कियां बहुत पसंद करती है |

दोस्तों मेरी नई भाभी जो थी वो बहुत ही सुन्दर और हरी भरी थी | उनका मस्त साइज़ का फिगर जिसका आकार 36 34 38 था | उनका जिस्म मस्त गदराया हुआ था जिसको देख कर मुंह में पानी आ जाये |

मेरी भाभी से मेरी बाते होती रहती थी | कुछ ही दिनों में मेरी उनसे ज्यादा बाते होने लगी और सब  तरह की बाते होने लगा थी |

दोस्तों मैं पहले तो उनके फिगर के आकार पर ज्यादा ध्यान नही देता था पर जब से उनसे सेक्सी बाते होने लगी तो मैं और भी उनके ऊपर ध्यान देने लगा और अब मुझे उनकी बड़ी बड़ी चूचियां भी दिखने लगी थी |

मैं अब उनके गदराये हुए बदन पर अपनी नज़रे घुमाने लगा और वो मुझे ऐसा देखते हुए हँस दिया करती थी जिससे मेरी हिम्मत और बढ़ जाती थी |

अब जब भाभी खाना बनाती तो मैं उनके साथ वहीँ खड़ा होकर उनकी मद्दत किया करता और उनके सेक्सी फिगर को निहारा करता | वो मुझे ऐसे देखते देख अपनी आंख मार देती तो मेरी हिम्मत सातवे आसमान पर पहुच जाती जिससे उनके कुल्हो को पकड कर दबा देता |

जब मैं उनके साथ ऐसा करता तो वो गुस्सा करने की वजह हँस देती जिस मुझे लगता की वो मुझसे पट गयी है | अब मैं रोज ही उनके साथ किचन में खाना बनवाने लगता और उसके साथ मजाक किया करता था |

दोस्तों मेरे बड़े पापा का जो लड़का है वो जॉब करता है और उसकी ड्यूटी अक्सर रात की होती थी इसलिए वो रात को ड्यूटी पर चला जाता था | अब आप लोग सोच रहें होंगे की में झूठ बोल रहा हूँ नही दोस्तों ये बात सच है मैं आप लोगो को ऊपर ही बताया था की मैं कहानी के साथ में ही सब बताता रहूँगा इसलिए ऊपर नही बताया था |

दोस्तों उस रात की बात है | मैं और भाभी टीवी देख रहे थे और मेरे बड़े पापा जोकि बाहर लेते सो रहे थे | तब मैं और भाभी को टीवी देखते हुए रात के 11 बज गए और दोस्तों मुझे नही पता था की उस रात भाभी के दीमक में क्या चल रहा है |

तब भाभी ने रात के 11 बजे टीवी बंद की और मुझसे कहा आज तुम्हारे भैया की ड्यूटी रात की थी तो वो चले गए हैं | मैं भी अकेली हूँ तो तुम ऐसा करो आज मेरे साथ ही लेट जाओ ?

मैं उनकी ये बात सुनकर थोडा सोचा और हाँ कर दी | तब भाभी ने अपना बिस्तर लगा दिया और मुझे लेटने को कहा ?

मैं लेट गया और साथ में ही मेरी भाभी लेट गयी थी | दोस्तों जब उस रात में भाभी के साथ लेटा था तो मुझे नीद भी नही आ रही थी | कुछ देर बाद भाभी मेरे पास आई बोली परमिश तुम्हे मैं आज जादू दिखाती हूँ |

मैंने भी हाँ कह दिया | वो धीरे से उठ कर मेरे कान के पास आई और अपने मुंह से फुकने लगी | मुझे उनके कान में हवा करने से गुदगुदी होने लगी थी जिससे मुझे मज़ा आ रहा था तो मैंने उन्हें मना भी नही किया | वो काम में हवा करती हुई मेरे गोरे से गाल पर अपनी लिपस्टिक लगी होठो से किस कर दिया |

मुझे उनके किस करना बहुत अच्छा लगा | वो किस करने के बाद आगे की और बढ़ी और मेरे पुरे चेहरे को चूमने लगी जिससे उनकी होठो में लगी लिपस्टिक मेरे चेहरे लाल कर दिया |

मुझे उनका ये करना बहुत अच्छा लग रहा था और कुछ ही देर में भी उनका साथ देने लगा और उनके गोल और खुबसूरत चेहरे को अपने हाथ में पकड लिया और चूमने लगा | मैं और भाभी लगभग ऐसे ही 10 मिनट तक चुमते चाटते रहे | फिर मैंने अपनी होठो को भाभी की होठो पर धीरे से रख दिया |

तब भाभी मेरी होठो को अपने मुंह में रख लिया और चूसने लगी | दोस्तों जब भाभी मेरी होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी तो मैं भी उनकी होठो को चूसने लगा और अपने एक हाथ को उनकी जांघ पर रख कर सहलाने लगा |

मैं भाभी की होठो को जब मुंह में रख कर चूस रहा था तो ऐसा लग रहा था जैसे की मैं स्ट्रॉबेरी खा रह हूँ | दोस्तों क्या हसीन पल थे | मुझे ऐसा लग रहा था की भाभी ने आज कुछ अपनी होठो को पर लगा लिया है

जिससे उनकी होठ मुझे इतनी मीठी लग रही है | मैं उनकी होठो को ऐसे ही 10 मिनट तक चूसता रहा साथ में उनकी जांघ को एक हाथ से सहलाता रहा जिससे वो मदहोश हो गयी थी और कामुक सिसकियाँ लेने लगी |

वो सेक्सी आवाजे करने लगी तो मुझे ऐसा लगा की अब वो गर्म हो गयी हैं | तब मैंने धीरे से उनकी साड़ी को हटा कर किनारे रख दिया और उनके ब्लाउज की गांठ पीछे से खोल दी क्यूंकि उस रात वो ब्लाउज ऐसा पहने ही थी की मुझे बटन नही गांठ खोलनी पड़ी थी |

दोस्तों जब मैंने उनका ब्लाउज खोल दिया तो देखा की वो उसके अन्दर काले रंग की ब्रा पहन रक्खी थी जिसमे उनके मस्त बड़ी चूचियां केद थी |

तब भाभी ने मुझे अपना पेटीकोट खोलने को कहा और मैंने ठीक वैसा ही किया जिससे भाभी मेरे सामने काली ब्रा और काली पैंटी में थी | क्या मस्त गदराया हुआ बदन था ? मुझसे रहा नही गया और मैं उन पर भूखे शेर की तरह टूट पड़ा और उनकी ब्रा के हुक को पीछे से खोल दिया |

दोस्तों क्या चूचियां थी उनके ऊपर छोटे निप्पल जीको हल्के भूरे रंग के थे | दोस्तों मुझसे ये सब देखकर रहा नही जा रहा था तो मैं अपने प्यासे लबो को उनकी चूचियां से लगा लिया और पीने लगा |

वो भी मदमस्त हो चुकी थी और मेरे सर को बदती हुई अपनी चूचियां को चूसा रही थी | दोस्तों ये चूचियां को चूसने के रंगीन खेल ऐसे ही करीब 8 मिनट तक चलता रहा |

फिर मैंने भाभी से अपने कपडे उतारने को तो वो मेरे कपड़ो को उतार दिया और किनारे रख कर मेरे लंड को हाथ में पकड लिया | भाभी मेरे लंड को हाथ में पकड कर भूखी शेरनी की तरह टूट पड़ी और मुंह में रख लिया | दोस्तों वो मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी |

जब वो मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी तो मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और उनके मुंह की गर्मी पाकर मेरा लंड झटके मारने लगा | भाभी मेरे लंड को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसती रही थी | फिर मुझसे अपनी चूत को चाटने को कहा |

दोस्तों मुझे पहले तो थोडा से अजीब लगा चूत चाटना तो मैंने पहले अपनी नाक को उनकी चूत के ऊपर टिका दिया | जब मैंने ऐसा किया तो उनकी चूत से आने वाली महक मुहे मदहोश करने लगी थी | क्या चूत की दोस्तों एकदम लाल पड़ी हुई थी जैसे की भाभी ने मेरे लिए इसे ऐसा कर रक्खा था |

दोस्तों उनकी चूत को चूत कहना सही भी नही था | वो तो जन्नत थी और मैं जन्नत के नज़ारे करने लगा | मैं भाभी की चूत में अपनी जीभ घुसा दी और चाटने लगा |

भाभी आ.ह…. उह.. ह… ह…. उह….आ…ह…अ..ह… की आवाजे करने लगी थी |

वो अब मुझसे बोलने लगी यार अब मुझे रहा नही जा रहा है मुझे जन्नत की और ले चलो | मेरी चूत में अपने केले को घुसा दो | मैंने भी बिना टाइम को बर्बाद किये उनकी चूत के मुंह पर लंड को टिका कर एक जोरदार धक्का मार दिया | भाभी चिल्लाई आह.. मर.. गा..ईई… ऊ..आह….यार…निका..अलो….. आ….ह…… |

दोस्तों वो आवाजे मुझे बहुत मस्त लग रही थी और मैं बिना टाइम वेस्ट किये उनकी चूत में धक्के मरने शुरू किये | कुछ ही देर में वो भी अपनी चूत को उठा उठा कर चुदने लगी और मुझसे बोलने लगी यार और जोर से मार धक्के ?

मैं उनकी चूत में जोरदार धक्के मारने लगा | दोस्तों उस रात भाभी की चूत से 5 बार पानी निकला था और मेरे लंड ने 3 बार पानी छोड़ा था | उस पूरी रात में जन्नत की शेर करता रहा था और साथ में उनको भी जन्नत के मज़े देता रहा था |

उस चुदाई के बाद जब भी भैया घर नही होते थे तो मैं भाभी को जन्नत की सैर कराता था | जब से मेरी शादी हो गयी है तब से मैंने उनको नही चोदा |

दोस्तों मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी और इसे पढने में आप लोगो के लंड ने पानी तो छोड़ ही दिया होगा क्यूंकि मेरा तो लिखने में ही निकल गया दोस्तों ?

आप लोग मुझे कम्मेंट करके जरुर बताएं की कैसी लगी मेरी कहानी | धन्यवाद………….

1 thought on “भाभी ने पूरी रात लिए चुदाई के मज़े”

Leave a comment