चोद चोद के गांड बना दिया साली को रांड

"If you'd like to submit a paid guest post or sponsor a post on our website, please contact us at

3/5 - (2 votes)

यह कहानी आप हॉट सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे है हेल्लो दोस्तों आपकी मैय्या की चूत मैं हूँ अन्सुल रैकवार और मैं भेडाघाट के पास रहता हूँ | मुझे कुछ अजीब सा लग रहा था इसलिए

Build Your Dream Website Join Now
अपनी वेबसाइट बनाए Join Now

आज मैं इस साईट पर आया हूँ और जब मैंने यहाँ दो तीन कहानी पढ़ी तब मेरा लंड तो खड़ा हो ही गया उसके साथ साथ मेरा मन भी अच्छा हो गया | दोस्तों चुदाई की कहानी अगर पढनी हो तो बस यहीं आओ |

अपना एक भाई है सूरज उसकी कहानी मैंने पढ़ी मुझे हँसी आ गयी | भाई क्या कहानी लिखता है मतलब चुदाई के साथ कॉमेडी | उसके बाद एक गोलू भाई की कहानी पढ़ी उसकी कहानी इतनी गहरी होती हैं लगता ही नहीं चुदाई की कहानी पढ़ रहे हैं | बावा लोग इससे अच्छी साईट कोई नहीं है |

एक अभिलाष भाई भी है अपना जिसकी कहानी में आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह ही मिलता है और इतने में ही लंड खड़ा हो जाता है |

मुझे ये लोग बहुत पसंद आये और मुझे ये साईट बहुत पसंद आई अबसे जब भी मन उदास हो यही आना और अपने मन और लंड दोनों को अच्छे से काबू में कर लेना |

तो दोस्तों आज मैं सोच रहा हूँ मैं भी आपके लिए कहानी लिख दूँ क्यूंकि चुदाई तो मैंने भी की है हाँ वो बात अलग है बस एक बार ही की है | अब मैं आता हूँ अपनी कहानी पे इसलिए अब अपना लंड थाम के बैठ जाओ और मैं अपनी कहानी शुरू करने जा रहा हूँ |

ये बात है पिछली गर्मी की जब सूरज सबकी गांड मार रहा था और लोगो के यहाँ पानी की किल्लत हो गयी थी | हमारे मोहल्ले में भी पानी की बहुत दिक्कत थी | मतलब ऐसा था कि सबके घर में पानी आता था और बस मेरे घर में नहीं आता था | इस बात से मुझे बहुत दिक्कत होती थी क्यूंकि मैंने हर जगह शिकायत की थी पर हो कुछ भी नहीं रहा था |

एक दिन की बात हैं मैं अपनी गाड़ी से डिब्बे भर के ला रहा था पानी के और उतने में सामने वाला किसी से बात करने के लिए बाहर आया | उसका नाम अरुण मोटा है और वो बहुत बड़ा मादरचोद इंसान है |

वो दोगुला है मादरजात किसी का सगा नहीं है | उसकी बीवी और बेटी भी रंडी हैं और उसका बेटा भी रंडवा है मादरजात |मैं दो तीन चक्कर पानी के लेके आया और उतने में उसने पूछा अरे क्यों पानी नहीं आ रहा क्या घर में | मैंने कहा नहीं तो उसने कहा हमारे यहाँ तो रोज़ सुबह आता है |

मैंने कहा अच्छी बात है उसने कहा बस ऐसे ही घूमो पानी के लिए | मेरा छर्रा खिसक गया इतने में और मैंने कहा सुन बे मोटे मादरचोद तेरे यहाँ पानी आ रहा है ना तो अपनी गांड में भर ले और मोटा होजा | उसने कहा बात कैसी कर रहा है बे |

मैने कहा कुछ उखाड़ लेगा मादरचोद | उसने कहा रुक और वो लाठी लेके आ गया | जैसे ही उसने मुझे मारने को किया मैंने पानी का डब्बा उसके ऊपर पटक दिया और उसके लंड पे लात ही लात मारी |

वो गिर गया और उसका लौंडा अपने दोस्तों के साथ आ गया | मैंने भी बुला लिया अपने बावा लोगो को | मेरे साथ सुजीत, अभिलाष, सुब्बू खटीक, छगन और बाकि लोग थे | हमने सब को भकाभक मारा और उसके लौंडे को चाक़ू मार दिया |

उसके बाद उसकी अम्मा आ गयी तो उसको भी रसीद दिया एक कंटाप | सब अलग हो गए और भाग गए उसके बाद मैंने धमकी दिया कि अगर कुछ किया तो फिर से मैय्या चोद दूंगा |

सब थी हो गया और हम सब अच्छे से रहने लगे | उसके बाद एक दिन उसकी बीवी मेरे घर आई और कहा आपके लड़के ने गलत किया है |

मैंने कहा कैसा गलत शुरू आपके पति ने किया था और लौंडे ने भी | उसने कहा वो सब ठीक है मैंने क्या किया था | मैंने कहा आप भी तो आये थे मारने चप्पल लेके आपको आपकी ही भाषा में समझा दिया मैंने |

उसने कहा कहा ठीक है अब सब भुला दो और फिर से दोस्ती करलो आखिर एक ही मोहल्ले में रहना है | मैंने कहा मैं क्यों करूँ ? उसने कहा ठीक है जैसा आप ठीक समझो हम तो सब ख़त्म करने आये थे | उसके बाद वो चली गयी और मैं तो समझता ही था कि ये साले लोग किसी के सगे नहीं हैं आज दोस्ती करेंगे कल पीठ के पीछे वार करेंगे |

मैं भी होशियार था इसलिए पहले ही संभल गया | पर एक चीज़ बड़ी अजीब हो रही थी उसकी बीवी मुझे रोज लाइन मार रही थी | मैं भी उसकी तरफ ध्यान ही नहीं देता था और अपने काम से काम रखता था

क्यूंकि साली नाटी और काली थी |एक दिन की बात है मैंने अपनी गाड़ी निकाली और कही घूमने जा रहा था उतने में वो नीचे आई और कहा सुनो बेटा मुझे ज़रा चुंगी तक छोड़ देना मेरी गाड़ी ख़राब हो गयी है | मैंने कहा ठीक है बैठ जाओ आप मैं आपको छोड़ दूंगा | मेरे मन में आया कही ये साली ने मेरी सेटिंग तो नहीं करवाई है |

इसलिए मैंने रास्ता बदल दिया और उसको दुसरे रास्ते से ले जाने लगा | पर ऐसा कुछ नहीं हुआ उसने कहा आप थोडा लम्बा रास्ता लेना | मैंने उसकी बात नहीं सुनी और अपने रास्ते पर चलता रहा | वो मुझसे चिपक के बैठ गयी और मेरे लंड को सहलाने लगी | मुझे लगा ये साली चुदना चाहती है |

मैंने कहा ये आप क्या कर रहे हो ? उसने कहा तुमाहरे लंड की मालिश क्यूंकि मैंने ब्यूटी पार्लर का कोर्स किया है | मुझे भी अच्छा लग रहा था इसलिए मैंने कहा आप चुदना चाहते हो मुझसे |

उसने कहा इसलिए तो दोस्ती का हाथ बढाने आये थे | मैंने कहा पर आपका पति तो उसने कहा मेरे पति की माँ की चूत भडवा है साला एक नंबर का दो मिनट में झड़ जाता है भोसड़ी का |

अब मुझे भी मज़ा आ गया तो मैंने कहा रात में घर आ जाना कोई नहीं है | उसने कहा ठीक है और उतने में हम चुंगी पहुँच गए और मैंने उसको वहां उतार दिया | उसके बाद उसने मेरे लंड को हल्का सा सहलाया और कहा काफी बड़ा है तुमाहरा लंड | मैंने कहा वो तो है पर अभी तक ओपनिंग नहीं हुयी है |

उसने कहा ठीक है आज रात को काली चूत से हो जाएगी | अब रात हुयी और वो मेरे घर आ गयी और उसके बाद उसने मुझे पकड़ लिया और चूमने लगी पर मैं उसे किस नहीं कर रहा था | वो काली थी इसलिए पर मैं उसके दूध दबा रहा था और उसके दूध को अच्छे से मसल रहा था |

फिर मैंने उसका ब्रा उतार दिया और उसके दूध दबाने लगा और उसके काले निप्पल्स को मसलने लगा | वो आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह करने लगी | फिर उसने मेरे कपडे उतार दिए और मुझे नंगा कर दिया |

उसने मेरे लंड को पकड़ा और उसके अपने स्टाइल में मालिश करने लगी रगड़ रगड़ के और मैं आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह

ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह करने लगा | उसके बाद मैंने उससे कहा मेरा लंड चूस बे | उसने तुरंत मेरे लंड को अपने मुंह में घुसा लिया और मेरे लंड को चूसने लगी |

मैं आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह करते हुए

अपना लंड चुसवाने लगा | मैं इसके साथ में उसके दूध को भी जम के दबा रहा था | उसके बाद मैंने उससे कहा अपनी चूत दिखाओ और उसने अपनी साडी और पेटीकोट उतार दिया और अपनी चड्डी भी उतार दी |

उसके बाद मैंने उसकी चूत में ऊँगली करना चालु कर दिया और वो आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह

आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह करने लगी | उसके बाद मैंने उसकी चूत में अन्दर तक ऊँगली करने लगा और उसके बाद मैंने उसकी चूत में अपना पूरा हाथ डाल दिया |

वो तड़प उठी और जोर से आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह केरने लगी |फिर मैंने उसे लेता दिया और उसकी चोट में अपना बड़ा मोटा लंड डाल दिया |

उसके बाद वो आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह आअह्ह्ह्ह ऊऊउम्म्म्म ऊऊउफ़् आआह्हह्हह ऊऊऊह्हह करते हुए चुदवाने लगी | मैंने उसे तरीके से चोदा और उसे मस्त दर्द हो रहा था और मुझे यही चाहिए था |

फिर मैंने उसे पलटाया और उसकी गांड पे लंड रखा और वो रोने लगी नहीं गांड मत मारो |

मैंने उसको पकड़ा और उसकी गांड में एक बार में पंड पेल दिया | वो चिआल्यी पर उसने चुदवा लिया | मैंने उसे कई बार चोदा और अब उसे रंडी बना दिया किसी से भी चुदवा देता हूँ |

Leave a comment