मकानमालिक की साली और मेरी अन्तर्वासना-1

"If you'd like to submit a paid guest post or sponsor a post on our website, please contact us at

Rate this post

हेल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप लोग? आशा है की आप लोग खुश होंगे और मेरी तरह Free Hindi Sex Stories पर सेक्स कहानियां पढ़ रहे होंगे | दोस्तों मैं आप लोगों को आज अपने जीवन के घटना बताने जा रहा हूँ |

Build Your Dream Website Join Now
अपनी वेबसाइट बनाए Join Now

ये घटना बहुत ही रोमांचक है | मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ और यहाँ पर एक किराये के फ्लैट में रहता हूँ |

असल में जिस घर में मैं रहता हूँ वो 2 मंजिल का है जिसमे नीचे मकानमालिक और उनका परिवार रहता है और ऊपर वाले फ्लोर पर मैं अकेला रहता हूँ |

मकानमालिक एक जवान आदमी था और उसकी बीवी भी उसके साथ रहती थी | एक दिन की बात है, दोनों शायद कहीं गए हुए थे | मेन गेट की एक चाभी मेरे पास भी रहती थी | रात में अचानक से डोरबेल बजी |

मैं चौंक गया की कौन आया है | मैं नीचे गया और मैंने गेट खोला | सामने के लगभग बीस साल की मस्त सी लड़की कड़ी थी | मेरे पूछने पर उसने बताया की वो मकानमालिक की साली है और वो शहर में किसी काम से आई थी लेकिन रात हो गयी इसीलिए यहाँ आ गयी |

उसका फ़ोन भी ऑफ था इसीलिए वो अपने जीजू (मेरे मकानमालिक) को कॉल नही कर पाई | मैंने उसको बताया की वो तो कहीं बाहर गये हुए हैं | फिर मैंने उससे बोला की आप एक काम करो, चल के मेरे फ्लैट में बैठो,

मैं अभी उसके जीजू को कॉल करता हूँ | वो थोडा हिचकिचाई लेकिन फिर मान गयी | मैंने मेन डोर लॉक किया और उसे लेकर अपने फ्लैट में चला गया |

मैंने अपने मकानमालिक को कॉल किया तो उन्होंने बताया की वो किसी दोस्त की पार्टी में गुडगाँव गये हुए हैं और वो और उनकी बीवी अगले दिन ही आ पाएँगे क्यूंकि कार भी खराब हो गयी है | ये सब जब मैंने उस लड़की को बताया तो वो टेंशन में आ गयी | मैंने उससे उसका नाम पूछा तो उसने पूजा बताया |

मैंने बोला पूजा, टेंशन मत लो और मेरे फ्लैट में ही रुक जाओ | मैं सोफे पर सो जाऊंगा | मेरे बहुत कोशिश करने के बाद वो मान गयी | मैंने एक काम किया था की उसके जीजू को ये नही बताया था की उसकी साली आई है इसीलिए पूछ रहा हूँ | अब मैंने पूजा को खाना खिलाया और उसको रेस्ट करने को बोल कर सोफे पर चला गया |

वो थकी हुई थी इसीलिए सो गयी | दोस्तों लाइट ओन थी इसीलिए मैंने देखा तो उसका बदन चमक रहा था | मुझसे रहा नही जा रहा था | उसके मीडियम साइज़ के बूब्स और सेक्सी फिगर.. क्या मस्त लग रही थी वो |

मेरे पास कोई चारा नही था इसीलिए मैं मन मसोस कर रह गया | मैं बेड पर जा नही सकता था और सोफे पर ठण्ड लग रही थी इसीलिए कमरे में ही टहलने लगा | थोड़ी देर बाद अचानक से जब पूजा की आँख खुली तो उसने मुझे टहलते हुए देखा और पूछा की क्या हुआ |

मैंने बोला बस ऐसे ही लेकिन उसके बहुत पूछने पर मैंने बता दिया की लॉबी में सोफे पर ठण्ड लग रही है मुझे क्यूंकि खिडकी का कांच टुटा हुआ है | वो बोली की कोई बात नही, मेरे साथ आ जाओ और लेट जाओ |

मैंने बोला अरे कोई बात नही, आई विल मैनेज | वो नकली गुस्सा दिखाने लगी | मेरे पास कहने को तो कोई चारा नही था लेकिन मन ही मन मैं भी यही चाहता था इसीलिए मैं आ गया और बेड पर उसके साथ लेट गया और कमरा अन्दर से बंद कर लिया |

अब वो मेरे बिलकुल बगल में लेटी थी और उसके बारे में सोच सोच कर मेरी आँखों में नींद का नाम भी नही था | मैं ऐसे ही सोच रहा था और वो सो चुकी थी फिर से | अचानक से उसने करवट बदली और मुझसे लिपट गयी |

मैं चौंक गया लेकिन मैंने उसको मना नही किया | धीरे धीरे जब और ज्यादा कस के लिपटने लगी तो मैंने भी उसको अपनी बाँहों में ले लिया | अब मुझसे रहा नही जा रहा था इसीलिए मैंने उसकी गर्दन को अपने होठों से चूम लिया |

वो नींद में ही मुस्कुराने लगी | मैंने धीरे धीरे अपने होठों को उसके होठों के पास लाना शुरू किया और नींद का नाटक करते हुए उसके होठों पर किस करने लगा |

थोड़ी देर तक ऐसे ही करते हुए मुझे एहसास हुआ की वो भी मुझे किस कर रही थी | अब मैं समझ गया की वो जगी हुई है | मैंने स्मूच करना शुरू कर दिया और वो भी मेरा साथ देने लगी | मैंने अब उसको थोडा सा साइड किया और उसके ऊपर आ गया | अब उसने अपनी आँखें खोल ली |

मैंने बिना डरे उसको किस करना चालू कर दिया | उसने भी मना नही किया और मेरा साथ देने लगी | मैं किस करते करते उसके गर्दन पर जाने लगा और गर्दन को किस करने लगा | वो मस्त होकर सिसकियाँ लेने लगी |

मैंने किस करना जारी रखा और उसके बूब्स को कपड़ों के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया | वो मस्त होकर आःह्ह्ह हह ह ह हह हह ह हह हह ह हह ह ऊऊ ऊ उ ऊऊ उ ऊ उ ऊऊ ऊ उ उ उ इ ई इ इ ई इ इ ईई इ इ इ इ ई इ इ इ करने लगी | उसकी सिसकियाँ सुनकर मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया | अब मैंने उसका टॉप ऊपर करके ब्रा को भी ऊपर कर दिया और उसके बूब्स दबाने लगा | क्या मस्त बूब्स थे उसके.. गुलाबी से.. सॉफ्ट.. |

मैंने उसके एक दूध को हाथ में लिया और चुसना शुरू कर दिया | उसने अपने हाथों को मेरे सर पर रखा और मस्ती से आःह्ह ह हह ह हह ह ह हह हह हह ह हह ह हह हह ह हह ह हह ह हह ह हू उ उ ऊ उ उ ऊ उ उ ऊऊ उ ऊ उ ऊ उ ऊ उ उ ऊ उ उ ऊ ऊऊ उ उ ऊ उ उ उ ऊ उ इ ई इ इ ई ईई इ इ ई ईई इ इ ई इ इ ईई इ ईई इ ईईइ ईई इ इ ई इ ईई ईईइ ई ई इ इ ई इ इउ उ उ उ उ ऊऊ ऊ उ ऊऊऊउ इ ई इ ईई ई इ करने लगी |

मैंने अब उसके दुसरे दूध को चुसना शुरू कर दिया और पहले वाले को हाथ से दबाने लगा | चूसते चूसते मैंने उसके निप्पल को हल्का सा काट लिया तो वो बोल पड़ी ऊउईईइ इ ई ई इ ई ई इ इ ई ईई इ आराम से.. दर्द हो रहा है मुझे.. | मैंने बोला ओके डिअर, आराम से ही कर रहा | इतना कह के मैंने उसके बूब्स को चुसना जारी रखा |

फिर मैंने उसको थोडा उठने को बोला और उसका टॉप उतार दिया और ब्रा भी उतार दी | अब मैंने उसके बूब्स को पूरा देखा.. वाह.. क्या मस्त बूब्स थे दोस्तों.. मजा ही आ गया |

मैंने फिर से उसके बूब्स को चुसना और दबाना शुरू कर दिया | वो मस्ती में आःह्ह ह ह हह ह हह ह हह ह हह हह ह ह ह ह हह ह ह ह हह उ उ उ ऊ उ ऊ उ उ ऊ उ इ इ ई ई ई इ इ इ इ ई इ इ इ इ इ आराम से..

आःह्ह ह ह हह ह हह ह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह ह ह हह ह ह हह ह ह हह ह ह ह हह ह उ ऊ उ उ ऊ उ ऊ उ उ उ ऊ उ उ उ ऊ उ उ उई इ इ इ ई इ इ इ ई इ इ इ ई इ इ इ ई इ इ इ इ ई ई इ ईईइ करने लगी |

अब मैंने फिर से उसके होठों को चूमना शुरू कर दिया और अपना हाथ निचे ले जाने लगा |

मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी के अन्दर डाल दिया | उसने पहले तो मना किया लेकिन मैंने जब उसकी गर्दन पर किस करना शुरू किया और थोडा सा उसके हाथ को हटाया तो उसने मना करना बंद कर दिया |

अब मैंने उसकी चूत के आस पास हाथ फेरना शुरू कर दिया | दोस्तों उसकी चूत चिकनी थी और बिना झांटों वाली थी | मुझे पता चल रहा था की उसकी चूत थोड़ी गीली सी हो गयी है |

ये था मेरी कहानी का एक भाग | अगले भाग में बताता हूँ की आगे क्या हुआ |

Leave a comment